गद्य

हिन्दी गद्य सहित्य का इतिहास पद्य साहित्य के इतिहास से कम पुराना है। हिन्दी पद्य साहित्य की रचना की शुरुआत देवकीनंदन खत्री के समय से प्रारंभ मानी जाती है। हिन्दी पद्य में कई विधाओं में कार्य हुआ है। सबसे ज्यादा रचना हिन्दी कथा में हुई है। इसमें लघुकथाएं, लंबी कहानीयां एवं उपन्यास शामिल है।

One Response

  1. Dashrath kumar pareek
    Dashrath kumar pareek February 27, 2012 at 6:24 pm | | Reply

    main hindi gaday sahitay me saksahtkar Vidha (interview) ko janana chata hon, es ki aavsakta keya hain? vistar se janana chata hon.

Leave a Reply to Dashrath kumar pareek Click here to cancel reply.

Are you human? *