कहानियां

प्रेमचंद की कहानियां बहुत ही प्रचलित हैं। इनकी कहानियों में मध्यवर्गिय व्यक्ति के जीवन की आशाओं एवं निराशाओं को चित्रित किया गया है। प्रेमचंद (मुंशीजी) ने हिन्दी और उर्दु दोनों ही भाषाओं में प्रचुर मात्रा में कहानियां लिखीं हैं। इनमें से कुछ कहानियों का संकलन नीचे किया गया है।

 पंच परमेश्वर

मिलाप

त्रिया-चरित्

मनावन 

Leave a Reply

Are you human? *